कोविड के बढ़ने के साथ ही 2020 – 21 में शेयर मार्केट में बहुत ज्यादा उतार-चढ़ाव देखा गया। जिस बजह से 2021 में बहुत से शेयर्स सबसे ज्यादा रिटर्न देने बाले शेयर भी बने है जिन्होने अपने निवेशको को काफी अच्छा रिटर्न दिया है।

जनवरी-जून की अवधि के दौरान, वैक्शीन की बढ़ती दर, सरकार के प्रोत्साहन कार्यक्रमों और भारतीय रिज़र्व बैंक की लिक्डिटी सहायता के कारण निवेशकों को भारतीय शेयरों की ओर आकर्षित किया था। फिर वर्ष की दूसरी छमाही में बहुत से आईपीओ के साथ शेयर मार्केट में ओर तेजी आयी।

2021 में वैक्सीनेशन, प्रोत्शाहन, बैंक लिक्डिटी, आरबीआई पैकेज आदि के कारण मार्केट ने बहुत अच्छी रैली दिखाई है जिसके कारण निफ्टी 100 से 5 शेयर एक साल में सबसे ज्यादा रिटर्न देने बाले शेयर भी बने है।

तो आज यहां 2021 में  सबसे ज्यादा रिटर्न देने बाले शेयर के वारे में चर्चा करेंगे।

 

सबसे ज्यादा रिटर्न देने बाले शेयर 

पिछले साल 2020 में भारत और दुनिया भर के इक्विटी मार्केट के लिए बहुत कठिन रहे हैं, लेकिन 2021 में मार्केट ने लंबी अवधि के निवेशकों को निराश नहीं किया है। बेंचमार्क इंडेक्स सेंसेक्स ने 2021 में जापान, चीन, हांगकांग जैसे अन्य एशियाई मार्केट की तुलना में 20.76% की बढ़त हासिल की है।

इसी बीच, कुछ भारतीय शेयरों ने निवेशकों को इस साल लगभग 400 प्रतिशत तक के प्रभावशाली रिटर्न दिए है। चलिए देखते है 2021 में  सबसे ज्यादा रिटर्न देने बाले शेयर कौन – कौन से है-

 

#1 : Trident : 395% रिटर्न

Trident सबसे ज्यादा रिटर्न देने बाले शेयर में शामिल है जिसने 2021 में अपने निवेशको के ₹10,000 के लगभग ₹40,000 रुपये कर दिए है।

Trident टेक्सटाइल कंपनी के शेयर ने 2021 में 395% के साथ सबसे अच्छा रिटर्न दिया है। ये लुधियाना की टेक्सटाइल क्षेत्र की सबसे बड़ी कंपनियों में से एक है। इस कंपनी के दो प्रमुख बिजनेस सेगमेंट हैं- टेक्सटाइल और पेपर। सितंबर तिमाही में Trident कंपनी का शुद्ध लाभ 121% बढ़कर ₹234 करोड़ हो गया था।

2021 इस स्टॉक के लिए बूस्टर था, क्योकि उत्पादन से जुड़ी प्रोत्साहन योजना (पीएलआई) की सरकार की तरफ से मंजूरी थी। सितंबर के महिने में, भारत सरकार ने कपड़ा उद्योग के लिए ₹10,683 करोड़ के प्रोत्साहन के साथ पीएलआई योजना को मंजूरी दी। इस कदम से घरेलू विनिर्माण को बढ़ावा देने और रोजगार को बढ़ावा देने और इसके साथ – साथ निर्यात को बढ़ाने में मदद मिलेगी।

 

#2 : Poonawala Fincorp : 431% रिटर्न

पूनावाला फिनकॉर्प भी सबसे ज्यादा रिटर्न देने बाले शेयर में शामिल है जिसने 2021 में अपने निवेशको के ₹10,000 के 2021 के अंत तक लगभग पांच गुना यानि ₹48,000 कर दिए है।

अगर आप जनबरी 2021 में पूनावाला फिनकॉर्प के शेयर में ₹10,000 के 2021 के अंत लगभग पांच गुना बढ़कर ₹48,000 से अधिक हो गये होते।

पूनावाला फिनकॉर्प कंपनी पुणे स्थित एक गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनी यानि एनबीएफसी कंपनी है, जिसे पहले मैग्मा फिनकॉर्प के नाम से जाना जाता था। भारत में कोविशील्ड वैक्सीन बनाने वाली कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला ने 2021 में कंपनी में नियंत्रण हिस्सेदारी ली है। 2021 में इस कंपनी के शेयरों में 431% का उछाल आया था।

पूनावाला फिनकॉर्प कंपनी रिटेल फाईनेंस, एसएमई फाईनेंस, आवास फाईनेंस और सामान्य बीमा व्यवसाय में काम करती है। पूनावाला फिनकॉर्प ने सितंबर तिमाही में ब्याज और क्रेडिट लागत में कमी पर शुद्ध लाभ में ₹95.5 करोड़ पर 151% की वृद्धि दर्ज की थी। पूनावाला फिनकॉर्प 2025 तक ऐसेट अंडर मैंनेजमेंट(AMU) को बढ़ाकर ₹45,000 करोड़ करने की योजना बना रही है, जो मौजूदा स्तर पर ₹15,275 करोड़ से लगभग तिगुनी है।

 

#3 Gujarat Fluorochemicals : 306 % रिटर्न

गुजरात फ्लोरोकेमिकल्स भी सबसे ज्यादा रिटर्न देने बाले शेयर में शामिल है जिसने 2021 में अपने निवेशको 306% रिटर्न दिया है।

2021 में इलेक्ट्रिक वाहनों (ईवी) में निवेश बहुत तेजी से बढ़ा है और इसलिए उनकी बैटरी की मांग भी तेजी से बढ़ी है। रासायनिक निर्माण कंपनी अब सौर पैनल, ईवी बैटरी और हाइड्रोजन ईंधन के लिए बैटरी रसायन जैसे नए जमाने के व्यवसायों में प्रवेश कर रही है। गुजरात फ्लोरोकेमिकल्स ने अगले तीन वित्तीय वर्षों में बैटरी इनपुट को तेजी से बढाने के लिए 2,500 करोड़ रुपये के पूंजीगत व्यय की घोषणा की है।

इसके अलावा, गुजरात फ्लोरोकेमिकल्स कंपनी का लाभ 2021 सितंबर तिमाही में 162% बढ़कर ₹207.15 करोड़ हो गया था।

 

#4 KPR Mill : 289% रिटर्न

केपीआर मिल भी सबसे ज्यादा रिटर्न देने बाले शेयर में शामिल है जिसने 2021 में अपने निवेशको 289% रिटर्न दिया है।

केपीआर मिल एक लीडिंग गारमेंट एक्सपोर्टर कंपनी होने के साथ-साथ सबसे बड़ी Vertically Integrated Apparel कंपनी है, जो रेडीमेड से बने हुए वस्त्र, बुना हुआ कपड़े और सूती धागे के निर्माण और मार्केटिंग में लगी हुई है।

2021 में स्टॉक में अच्छी वृद्धि हुई है क्योंकि कंपनी ने अपनी तमिलनाडु इकाई में अपनी नई 42 मिलियन Apparel प्रति वर्ष उत्पादन क्षमता को सफलतापूर्वक चालू करने की घोषणा की है। इसके साथ ही, केपीआर मिल की कुल गारमेंट निर्माण क्षमता बढ़कर 157 मिलियन हो गई है।

केपीआर मिल्स कंपनी के पास गारमेंटिंग फैसिलिटी (250 करोड़) और एथेनॉल फैसिलिटी (500 करोड़) के लिए 750 करोड़ रुपये की दो प्रमुख कैपेक्स परियोजनाएं उपलब्ध हैं। 2021 सितंबर तिमाही में कंपनी का शुद्ध लाभ 115% से बढ़कर ₹242 करोड़ हो गया था।

 

#5 Angel One : 253% रिटर्न

एंजेल वन भी सबसे ज्यादा रिटर्न देने बाले शेयर में शामिल है जिसने 2021 में अपने निवेशको 253% रिटर्न दिया है।

एंजेल वन, इससे पहले इसे एंजेल ब्रोकिंग के नाम से जाना जाता था, एंजेल वन भारत की सबसे बड़ी ब्रोकिंग फर्मों में से एक है। यह एक फाइनेंसियल कंपनी है जो अपने ग्राहकों को ब्रोकिंग और सलाहकार सेवाएं, मार्जिन फंडिंग, शेयरों पर ऋण और फाइनेंसियल उत्पादों जैसी सर्विस प्रदान करती है।

एंजेल वन कंपनी के शेयरों में तेजी आ रही है क्योंकि हर दिन लोगों का शेयर मार्केट की ओर झुकाव बढ रहा है। नवंबर 2021 में कंपनी के कस्टुमर सालाना 146% बढ़कर 7.32 मिलियन हो गए है।

इसके अलावा, एंजेल वन ने सितंबर तिमाही में शुद्ध लाभ में 80% की वृद्धि के साथ ₹134.2 करोड़ की वृद्धि दर्ज की।

 

#6 Indian Energy Exchange : 243% रिटर्न

इंडियन एनर्जी एक्सचेंज भी सबसे ज्यादा रिटर्न देने बाले शेयर में शामिल है जिसने 2021 में अपने निवेशको 243% रिटर्न दिया है।

इंडियन एनर्जी एक्सचेंज(IEX) भारत की प्रमुख ऊर्जा एक्सचेंज कंपनी है जो बिजली, रेनेबल पॉवर, रेनेबल एनर्जी सर्टीफिकेट और ऊर्जा एनर्जी सेंविंग सर्टीफिकेट के फिजिकल वितरण के लिए एक राष्ट्रव्यापी, स्वचालित व्यापार मंच प्रदान करता है।

बढ़ती आर्थिक गतिविधियों की बजह से हाल के दिनों में बिजली की मांग को बढ़ावा दिया है। इंडियन एनर्जी एक्सचेंज(IEX) कंपनी ने सितंबर 2021 को समाप्त दूसरी तिमाही के लिए मजबूत आय दर्ज की और 2:1 के अनुपात में बोनस शेयरों की भी घोषणा की थी।

 

#7 Adani Enterprises :  248% रिटर्न

अडानी एंटरप्राइजेज भी सबसे ज्यादा रिटर्न देने बाले शेयर में शामिल है जिसने 2021 में अपने निवेशको 248% रिटर्न दिया है।

अडानी समूह की प्रमुख कंपनी अडानी एंटरप्राइजेज देश के सबसे तेजी से बढ़ती कंपनियों में से एक है। कुछ विश्लेषकों का मानना है कि अडानी कंपनी के शेयर स्पैक्यूलेशन से प्रेरित हैं न कि फंडामेंटल से।

2021 में अडानी एंटरप्राइजेज के मुनाफे में 50% से अधिक की गिरावट के बावजूद भी कंपनी का स्टॉक केवल ऊपर जा रहा था। अडानी एंटरप्राइजेज ने सितंबर तिमाही में 55.3% की गिरावट के साथ 194.54 करोड़ रुपये की  गिरावट दर्ज की, जो उच्च खर्चों से प्रभावित थे।

 

#8 Happiest Minds : 282% रिटर्न

हैप्पीएस्ट माइंड्स भी सबसे ज्यादा रिटर्न देने बाले शेयर में शामिल है जिसने 2021 में अपने निवेशको 282% रिटर्न दिया है।

पिछले साल में टेक्नोलॉजी शेयर निवेशकों के पसंदीदा रहे हैं और मिड-कैप आईटी फर्म हैप्पीस्ट माइंड्स उनमें से एक है।

हैप्पीस्ट माइंड्स का सितंबर तिमाही में कंपनी का रेवेन्यु 46% बढ़कर ₹274 करोड़ हो गया, जबकि नेट लाभ 30% बढ़कर ₹44 करोड़ हो गया। हैप्पीस्ट माइंड्स कंपनी अन्य देशों में कंपनियों का अधिग्रहण करके अपने कारोबार का विस्तार करना भी चाह रही है। हैप्पीस्ट माइंड्स टेक्नोलॉजीज के एमडी और सीएफओ वेंकटरामन नारायणन ने एक इंटरव्यु में कहा, “हम लगातार अधिग्रहण की तलाश कर रहे हैं और कुछ कंपनियों के साथ सक्रिय चर्चा चल रही है।

 

#9 Balaji Amines : 239% रिटर्न

बालाजी एमाइन्स भी सबसे ज्यादा रिटर्न देने बाले शेयर में शामिल है जिसने 2021 में अपने निवेशको 239% रिटर्न दिया है।

बालाजी एमाइन्स एक रासायनिक निर्माण कंपनी है ये चीन प्लस वन रणनीति के लाभार्थियों में से एक है, विशेष रूप से अक्टूबर में बिजली की कमी के कारण चीन में Manufacturing Units अस्थायी रूप से बंद हो गई थी।

चाइना प्लस वन सिर्फ चीन में निवेश करने से बचने और अन्य देशों में व्यापार में विविधता लाने की एक व्यावसायिक रणनीति है।

बालाजी एमाइन्स रासायनिक निर्माता मिथाइलमाइन, एथिलमाइन, विशेष रसायनों के डेरिवेटिव और फार्मा एक्सीसिएंट्स का उत्पादन करता है। बालाजी एमाइन्स का सितंबर तिमाही में कंपनी का शुद्ध लाभ दोगुना होकर ₹88 करोड़ हो गया था।

 

#10 KPIT Technologies : 295% रिटर्न

मिड-कैप आईटी स्टॉक KPIT Technologies भी सबसे ज्यादा रिटर्न देने बाले शेयर में शामिल है जिसने 2021 में अपने निवेशको 295% रिटर्न दिया है।

1 नवंबर को 2022 तक रेवेन्यु ग्रोथ के दृष्टिकोण को 18% से बढ़ाकर 20% करने के बाद स्टॉक पिछले दो महीनों में 88% की छ्लांग लगा चुका है।

KPIT Technologies ऑटोमोटिव कंपनियों को सॉफ्टवेयर प्रदान करने वाली कंपनी है जो ऑटो मोबाईल इंडस्ट्री में ऑटोमोबाइल उद्योग की मदद करने के लिए विकासशील प्रौद्योगिकियों की ओर केंद्रित है।

KPIT Technologies ने सितंबर तिमाही के लिए शुद्ध लाभ में ₹65 करोड़ में 140% की उछाल दर्ज की है।

 

आपको 2022 में निवेश क्यों करना चाहिए?

2022 में, आईटी, फाइनेंशियल्स, स्वास्थ्य सेवा और कंस्ट्रक्शन, ऑटोमोबाइल से संबंधित क्षेत्रों के लिए संभावनाएं बहुत अच्छी नजर आती दिखाई दे रही है। कम ब्याज दरें कंस्ट्रक्शन में तेजी ला रही हैं, जिससे कि कंस्ट्रक्शन से संबंधित सभी शेयरों को फायदा होना निश्चित है।

इन मार्केट सेगमेंट में उच्च गुणवत्ता वाले शेयरों पर ध्यान केंद्रित करने से 2022 में आपको वेहतरीन रिटर्न मिल सकते है। यदि आप स्टॉक मार्केट में नए है तो म्यूचुअल फंड एसआईपी के माध्यम से मिड और स्मॉल-कैप में निवेश शुरु कर सकते है।

2022 में शेयर मार्केट का एक आशाजनक भविष्य की उम्मीद है क्योंकि भारतीय अर्थव्यवस्था फलफूल रही है, और महामारी के प्रभाव के बावजूद इसके बढ़ने की अधिक संभावना है।

ये भी पढे :

शेयर मार्केट क्या है? | Share Market Kya Hai in Hindi

शेयर मार्केट में पैसा कैसे लगाएं?

निष्कर्ष

हमने ऊपर जितने भी सबसे ज्यादा रिटर्न देने बाले शेयर बताएं है उन्होने 2021 में अच्छे रिटर्न दिए है लेकिन ये जरुरी नही है कि ये 2022 में भी उतने ही अच्छे रिटर्न आपको दे सकते है इसलिए किसी भी कंपनी में निवेश करने से पहले उसकी रिसर्च करने के बाद ही अपने निवेश निर्णय ले।

शेयर मार्केट में निवेश जोकिम भरा होता है, जोखिम मार्केट की स्थितियों के अधीन हैं। अपने जोखिम के अनुसार निवेश करें। यहां दी गई जानकारी सूचनात्मक प्रकृति में है और निवेश की कोई सलाह नहीं देती है।