कभी आपने सोचा है, इंट्राडे ट्रेडिंग के माध्यम से केवल कुछ ट्रेडर्स ही पैसा बनाने में सफल क्यों होते हैं?

ये अभी हम समझेंगे Intraday Trading Tips in Hindi लेख में…….

 

इंट्राडे ट्रेडिंग, जिसे डे ट्रेडिंग के रूप में भी जाना जाता है, शेयर बाजार में शुरुआती लोगों के लिए इंट्राडे ट्रेडिंग सबसे पंसदीदा ट्रेडिंग शैली है।

इसका कारण यह है कि बहुत कम ट्रेडर्स को पता होता है कि क्या ट्रेड करना है और कब ट्रेड करना है एंव एक ही समय में मनी मैंनेजमेंट की सही रणनीति है।

आज इस Intraday Trading Tips in Hindi लेख में जानेंगे,

* इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है?

* इंट्राडे में ट्रेडिंग करते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?

* शेयर बाजार में शुरुआती लोगों के लिए, Intraday Trading Tips in Hindi.

तो, चलिए शुरू करते हैं!

 

इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है?

इंट्राडे ट्रेडिंग मुनाफा बुक करने के लिए उसी दिन शेयर खरीदने और बेचने के बारे में है। इसमें आप अपनी शेयरों की डिलीवरी लेने की योजना नहीं बनाते हैं। यानि अगर आप किसी कंपनी के शेयर खरीद कर उसी दिन मार्केट बंद होने से पहले बेच देते है तो यह प्रकिया इंट्राडे ट्रेडिंग कहलाती है।

दूसरे शब्दों में, यदि आप शेयरों को खरीदने या बेचने के लिए एक इंट्राडे ऑर्डर देते हैं, तो आप मूल्य में उतार-चढ़ाव का लाभ उठाते हैं और ट्रेडिंग दिवस के अंत से पहले स्थिति को कवर करते हैं ताकि अगले दिन के लिए कोई बकाया शेयर न हो।

 

Intraday Trading Tips in Hindi for Beginners

लगातार इंट्राडे ट्रेडिंग से पैसे कैसे कमाएं? इसका कोई निश्चित उत्तर नहीं है, लेकिन लंबे समय में ये सरल टिप्स एक नए ट्रेडर और एक अनुभवी ट्रेडर के बीच अंतर करते हैं! यहां पांच नियम दिए गए हैं जिन्हें आप फोलो कर एक वेहतर ट्रेडर बन सकते हैं।

 

#1 आप क्या ट्रेड करेंगे और कब ट्रेड करेंगे, ये स्पष्ट होना चाहिए।

पहले अपनी ट्रेडिंग के लिए लिक्विड स्टॉक्स की सूची बनाएं। यह कभी भी 10-15 से अधिक स्टॉक नहीं होना चाहिए क्योंकि आप इसे नियमित रूप से ट्रैक कर सकते हैं। मुख्य नियम अस्थिर बाजार के बीच में ट्रेड नहीं करना है। इंट्राडे ट्रेडिंग सबसे अच्छी होती है जब बाजार की दिशा और गति का अनुमान लगाया जा सकता है। यदि आप नियमित अंतराल पर स्टॉप लॉस को ट्रिगर करते रहते हैं, तो यह न केवल आपको विचलित करता है बल्कि एक इंट्राडे ट्रेडर के रूप में आपका मनोबल भी गिराता है। तार्किक रूप से यह है कि इंट्राडे ट्रेडिंग काफी हद तक आपकी पूंजी की सुरक्षा के बारे में है और आपको विभिन्न स्तरों पर अपनी पूंजी की रक्षा करनी होगी। आपको इस बात पर ध्यान देना चाहिए कि आप कुल मिलाकर और प्रति ट्रेड के आधार पर कितना नुकसान उठाना चाहते हैं। वह पहला टिप है।

 

#2 स्टॉप लॉस और प्रॉफिट टारगेट वे ईंधन हैं जो इंट्राडे ट्रेडिंग को बेहतर बनाते हैं।

स्टॉप लॉस इंट्राडे ट्रेडिंग में बीमा की तरह है, भले ही आप शॉर्ट या लॉन्ग ट्रेडिंग कर रहे हों। बिना स्टॉप लॉस के कभी भी इंट्राडे ट्रेड न करें। स्टॉप लॉस की अनुपस्थिति में, आप असहनीय नुकसान के साथ पोजीशन धारण कर सकते हैं। जब आप एक इंट्राडे ट्रेडर होते हैं, तो आप रात भर का जोखिम नहीं उठा सकते, भले ही आप प्रतीक्षा करने का जोखिम उठा सकते हों। इसका मतलब है कि आपको न केवल स्टॉप लॉस बल्कि प्रॉफिट टारगेट भी पहले से ही तय करना होगा। इस लिए ट्रेड में प्रवेश करने से पहले आपको अपना स्टॉप लॉस और टारगेट पता होने ही चाहिए।

 

#3 आप कैसे ट्रेड करते हैं और ट्रेड क्यों करते हैं, ये पता होना चाहिए।

यह एक ऐसी चीज है जिसे बहुत से इंट्राडे ट्रेडर पूरी तरह से नहीं समझते हैं। अपनी लाभ और अपनी नुकसान का रिकॉर्ड रखें और दिन के अंत में मूल्यांकन करें। यह सुनने में वचकाना लग रहा होगा, लेकिन धीरे-धीरे आपको इसकी अहमियत का एहसास होगा। आपने क्या गलत किया और आप क्या बेहतर कर सकते थे, इसका विश्लेषण करने के लिए एक ट्रेडिंग प्लान का उपयोग करें। समय के साथ, यह प्रक्रिया आपको एक बेहतर इंट्राडे ट्रेडर बनने में मदद करती है।

आप जो ट्रेड करते हैं उसमें यह भी शामिल है कि किस शोध और टेक्निक का उपयोग करना है और इसका उपयोग कैसे करना है। बाजार मे आने बाली जरुरी खबरों पर नजर रखें, अन्यथा एक इंट्राडे ट्रेडर के रूप में आपके असफल होने की संभावना है। कॉर्पोरेट कार्रवाइयों और परिणामों की घोषणाओं के प्रवाह का मूल्यांकन करें। आपको अपनी शॉर्टलिस्ट की गई कंपनियों के बारे में अच्छी तरह अपटेड रहना चाहिए। यहां तक कि इंट्राडे ट्रेडर्स को भी यह जानने की जरूरत है कि कंपनी क्या कर रही है और कैसा प्रदर्शन कर रही है। इन सबसे ऊपर, अपने स्वयं के तकनीकी चार्टिस्ट बनें और F&O डेटा जैसे OI/PCR/IV आदि का मूल्यांकन करें। ये सभी इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण इनपुट हैं।

 

#4 जब आप नुकसान करते हैं तो ये सीखने का सबसे अच्छा मौका है।

किसी भी व्यवसाय की तरह, एक इंट्राडे ट्रेडर के रूप में आपके कौशल का सबसे अच्छा परीक्षण तब किया जाता है जब आप नुकसान में होते हैं। याद रखने के लिए यहां कुछ बुनियादी नियम दिए गए हैं।

जब आप इंट्रा डे ट्रेडिंग कर रहे हों और नुकसान उठा रहे हों तो घबराएं नहीं। बल्कि अपनी गलतियों को पहचानों और उनसे सीखो।

नुकसान के बारे में चिंता न करें, ये इंट्राडे ट्रेडिंग का हिस्सा हैं। अपने ट्रेडिंग जर्नल में अपनी गलतियों को देखना और विश्लेषण करना एक अच्छे ट्रेडर की पहचान है।

यदि कोई आपको बताता है कि वे ट्रेडिंग में हमेशा प्रोफ़िट करते हैं, तो वे या तो भगवान हैं या झूठे हैं। आपको उनमें से कोई भी नहीं होना चाहिए। नुकसान ट्रेडिंग का हिस्सा हैं।

यदि आपकी पोजीशन ने कुछ मिनटों या घंटे के भीतर आकर्षक लाभ अर्जित किया है, तो प्रोफ़िट बुक कर ले। अपनी किस्मत को ज्यादा देर तक न परखें। कभी भी ओवरट्रेडिंग करके नुकसान की भरपाई करने की कोशिश न करें। ये आपको और ज्यादा नुकसान की ओर ले जायेगी।

इंट्राडे ट्रेडिंग को समझना ज्यादा मुस्किल नहीं है। यह सिर्फ सही माइंडसेट और मनी मैंनेजमेंट पर निर्भर करता है, कि आप ट्रेडर बनेंगे या नही!

 

#5 हमेशा सीखते रहे।

मैं अपने अनुभव से बता रहा हुं कि ज्यादातर ट्रेडर्स सिर्फ अच्छी स्ट्रेटजियों के पीछे भागते है, उन्हे ये वात समझने में सालो लग जाते है कि सिर्फ अच्छी स्ट्रेटजी से पैसा नही कमाया जा सकता है, जब तक कि सही माइंडसेट और मनी मैंनेजमेंट न हो। इस लिए मेरी सबसे जरुरी प्रेक्टिकल सलाह है कि अपने माइंडसेट और मनी मैंनेजमेंट पर काम करे। ट्रेडिंग को सीखना एक कभी न खत्म होने बाला प्रोसेस है इसलिए हर रोज कुछ न कुछ सीखते रहे। तभी आप स्टॉक मार्केट में सरवाइव कर पाओंगे, और अगर इसमें सरवाइव कर गए तो आपको ट्रेडर बनने से कोई नही रोक सकता है।

 

अंतिम विचार

यदि आप एक सफल ट्रेडर बनना चाहते हैं, तो इंट्राडे ट्रेडिंग में लाभ कमाने के लिए ये बुनियादी वाते समझना महत्वपूर्ण है। साथ ही, किसी ट्रेड में प्रवेश करने से पहले आपको अपना होमवर्क अच्छी तरह से करना चाहिए।

ये Intraday Trading Tips in Hindi आपकी ट्रेडिंग यात्रा में आपकी मदद करेंगे। लेकिन हमेशा यह सुनिश्चित करना याद रखें कि आप सही माइंडसेट के साथ ट्रेड करे और भावना-आधारित निर्णयों से बचें।

अपनी ट्रेडिंग यात्रा की शुरुआत करने के लिए अभी फ्री में देश के नं 1 स्टॉक ब्रोकर ज़ेरोदा के साथ अपना डीमेट & ट्रेडिंग खाता खुलवाएं। खाता खुलवाने के लिए क्लिक करे!